ओपिनियन

ओपिनियन

क्या होता है जब चाहकर भी मां नहीं बन पाती एक औरत

पता नहीं दोस्तों- रिश्तेदारों को क्या मजा आता है मुझे बुरा फील कराने में.

ओपिनियन

दक्षिण भारतीय सिनेमा और हिरोइन के पेट का दीवाना हीरो

30 साल हो गए, जाने कितनी हिरोइनों के पेट को उनसे बड़ा किरदार मिल गया.

ओपिनियन

सुपरस्टार सलमान खान के 6 मूर्खतापूर्ण और असंवेदनशील बयान

जो पुरुषवाद में जकड़े हैं. जिनमें स्त्री-विरोधी मानसिकता के कीड़े बिलबिलाते हैं.

ओपिनियन

संकोची लड़की ही समाज में अच्छी और सभ्य मानी जाती है, पर क्यों?

लड़की हो तो सिर्फ गाय और बकरी, जो सिर्फ सिर हिलाए, मुंह न चलाए.

ओपिनियन

चांद जैसी गोल रोटी बनाना सिर्फ औरत की जिम्मेदारी क्यों?

क्या एक औरत तभी मुकम्मल है, जब वो लजीज व्यंजन बनाने का हुनर रखती हो.

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group