आशुतोष चचा
ashutosh7570@gmail.com

लेटेस्ट

डियर आयुषी,कुछ नहीं रखा बड़ा होने में

ऐसा बहुत कुछ है जो बड़े होने पर खो जाएगा

डियर आयुषी,बहनें अपने भाइयों की ऑनर किलिंग का हिस्सा नहीं बनतीं

अगर सभी बेटियों के बाप इतनी कोमलता से भरे हैं तो बेटियों की हालत इतनी खराब क्यों है

डियर आयुषी,समझदारी का बालिग होने से कुछ लेना देना नहीं है.

आजकल 15 साल के लड़के अपने नाम से ऐप पेटेंट करा रहे हैं

डियर आयुषी, मैं तुम्हें ऐसी दुनिया देना चाहता हूं जहां तुम्हारा हाथ पकड़ने की जरूरत न पड़े

मैं तुम्हें ऐसी जगह ले जाना चाहता हूं जो बच्चों की अय्याशी का अड्डा हो

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group