खतना: 'हराम की बोटी' कहकर लड़कियों का गुप्तांग काट देते हैं

सरवत फ़ातिमा सरवत फ़ातिमा अप्रैल 26, 2018
  • Comments

ट्रिपल तलाक़ के बाद अब कई औरतें फीमेल जेनिटल म्यूटिलेशन या औरतों के खतने का विरोध कर रही हैं. औरतें के खतने में उनकी क्लिटोरिस काट दी जाती है. ये सिर्फ उनके शरीर पर ही नहीं, उनके जीवन और आत्मा पर एक गहरी चोट की तरह होता है. क्लिटोरिस ही वो अंग है जहां औरतों को सबसे ज्यादा कामुकता महसूस होती है. इस तरह परंपरा के नाम पर औरतों के यौन जीवन पर पूर्णविराम लगा उन्हें महज बच्चे पैदा करने वाली मशीन बनाना कहां तक सही है?

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group