छह महीने पुराने हनी सिंह के इस गाने पर आज बवाल क्यों हो रहा है?

एक हुए सिंगर हनी सिंह. असली नाम, हिरदेश सिंह. पंजाब के होशियारपुर का ये छोरा पिछले 15 सालों से गा रहा है. लेकिन 2011 में जब इंटरनेशनल विलेजर नाम का एल्बम आया, तब से कुछ ज्यादा ही पॉपुलर हो गए यो यो हनी सिंह के गाने.

गाने क्या हैं, रैप है. बीट्स हैं. और उनमें इधर-उधर के लिरिक्स हैं. ज्यादातर घटिया. क्योंकि जहरीले तरीके से पुरुषवादी. पर लोगों को जंचते हैं, तो जंचते हैं. क्या कहा जाए. इनका गाना ‘लक 28 कुड़ी दा’ जब रिलीज हुआ था तो बीबीसी के एशियन सांग्स डाउनलोड लिस्ट में टॉप पर पहुंच गया था.

खैर, अभी दिसंबर में एक गाना आया था इनका. 'मखना' टाइटल से. इस गाने पे अब बवाल हो रहा है.

क्यों?

पहले गाना देखिए. वैसे तो हम नहीं चाहते कि इसे कोई और व्यू मिले, लेकिन आप देखंगे नहीं तो जज कैसे करेंगे. इसलिए देख ही लीजिए:

इस गाने को लेकर पंजाब राज्य महिला आयोग की चेयरपर्सन मनीषा गुलाटी ने कहा कि उन्होंने डिरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस से दरख्वास्त की है कि इस मामले में हनी सिंह के खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज किया जाए.

उन्होंने जारी किए हुए एक प्रेस नोट में कहा,

'टी सिरीज के चेयरमैन भूषन कुमार, गायक हनी सिंह और नेहा कक्कड़  द्वारा तैयार किया हुआ गाना महिलाओं के खिलाफ अभद्र शब्दों का प्रयोग करता है, इस मामले में पुलिस द्वारा कानूनी कार्रवाई और पड़ताल की आवश्यकता है.'

पुलिस से इस मामले में 12 जुलाई तक रिपोर्ट मांगी गई है.

हनी सिंह के गानों पर कंट्रोवर्सी कोई पहली बार नहीं हुई है. इस से पहले भी हनी सिंह के ऐसे लिरिक्स पर बवाल हुआ था. जिसका जिक्र तक नहीं किया  जा सकता. अब इस गाने में भी हनी सिंह ने गाया है ‘मैं हूं वुमनाइज़र’. वुमनाइज़र का मतलब अगर आम बोलचाल की भाषा में समझें, तो जिसे 'औरतबाज/लौंडियाबाज़' कहा जाता है, मतलब उसी के आस-पास आएगा.

इस गाने के लिरिक्स में पतली लड़कियों को घास से कम्पेयर किया गया है. और भी कई आपत्तिजनक बातें कही गई हैं. एनडीटीवी में छपी खबर के अनुसार पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने पंजाब सरकार को हनी सिंह के खिलाफ मामला दर्ज करने का आदेश दिया था. कोर्ट ने ये भी कहा था कि हनी सिंह जैसे गायकों को बॉयकाट करना चाहिए क्योंकि उसके गाने हमारा सिर शर्म से झुका देते हैं.

ये भी पढ़ें:

पॉपुलर पंजाबी म्यूजिक का सड़ा हुआ, गंधाता पुरुषवाद

देखें वीडियो:

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group