पीरियड आते ही पेट में गैस क्यों बनने लगती है?

पीरियड्स के दौरान पेट का पूरा सिस्टम बिगड़ जाता है.

सरवत फ़ातिमा सरवत फ़ातिमा
जुलाई 04, 2019
(फ़ोटो कर्टसी: Pixabay)

उफ्फ...ये पीरियड्स. इनके साथ कोई एक मुसीबत जुड़ी हो तो बताएं. पेट में दर्द. पीठ में दर्द. मूड ख़राब. उल्टी सी महसूस होना. ये लिस्ट खत्म ही नहीं होती. एक और दिक्कत है जो पीरियड्स शुरू होने से पहले और उसके दौरान बहुत होती है. वो है गैस. पेट में इतनी गैस बनती है कि क्या बताएं. पर ऐसा क्यों होता है?

ये जानने के लिए हमने बात की डॉक्टर लवलीना नादिर से. वो फ़ोर्टिस दिल्ली में स्त्रीरोग विशेषज्ञ हैं.

क्यों बनती है पीरियड्स के पहले और दौरान इतनी गैस

डॉक्टर लवलीना नादिर कहती हैं:

“इसकी वजह होते हैं हॉर्मोन्स. उनमें मची उथल-पुथल. खासतौर पर एस्ट्रोजेन और प्रोजेस्ट्रोन नाम के दो हॉर्मोन. पीरियड्स होने से पहले और उसके दौरान इनमें काफ़ी उतार-चढ़ाव मचा रहता है. जब पीरियड्स होने वाले होते हैं तो उस समय इन हॉर्मोन्स की मात्रा शरीर में बढ़ जाती है. और उसका असर पड़ता है आपके पेट और छोटे इंटेस्टाइन्स पर. एस्ट्रोजेन की ज़्यादा मात्रा की वजह से गैस और कब्ज़ की दिक्कत बढ़ जाती है. इसके साथ ही हमारे शरीर में एक पाइपनुमा चीज़ होती है. जिससे खाना एक जगह से दूसरी जगह पहुंचता है. यह पाइप हमारे मल मार्ग से भी जुड़ी होती है. इन हॉर्मोन्स की वजह से इस पाइप में गैस फंस जाती है. और फ़िर आप गैस भी काफी ज्यादा पास करते हैं.”

Image result for periods

पीरियड्स के दौरान कोई एक दिक्कत हो तो डॉक्टर को बताएं! (फ़ोटो कर्टसी: Pixabay)

उन्होंने आगे बताया कि पीरियड्स शुरू होने से थोड़ा पहले आपके गर्भाशय की अंदरूनी परत एक तरीके का एसिड भी रिलीज़ करती है. ये एसिड उस समय हॉर्मोन जैसे ही बीहेव करता है. इस एसिड का नाम है प्रोस्टाग्लैंडिन. ये आपके गर्भाशय की अंदरूनी परत को सिकुड़ने में मदद भी करता है. ताकी खून बाहर निकल सके. अगर प्रोस्टाग्लैंडिन की मात्रा ज़्यादा बढ़ जाती है तो ये आपकी नसों तक पहुंच जाता है. इसकी वजह से आपकी मांसपेशियों में सिकुड़न होने लगती है. आपके खाना पचाने की क्रिया पर भी इसका असर पड़ता है. इस तरह का बदलाव पीरियड्स के दौरान आपके हाज़मे की बैंड बजा देता है.

क्या और भी वजहें हो सकती हैं?

वैसे तो पीरियड्स के दौरान गैस बनना आम है. पर इसके पीछे कुछ और वजहें भी हो सकती हैं. जैसे:

-इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम यानी आंतों की बीमारी.

-एन्डोमीट्रीओसिस. इसमें गर्भाशय के अंदर रहने वाली एंडोमेट्रियल सेल्स उसके बाहर पनपने लगते हैं.

अगर गैस इन वजहों से बन रही है तो आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए. घर पर इसका इलाज तो आप नहीं कर सकतीं.

Image result for woman gassy

पीरियड्स के दौरान फार्ट्स से परेशान हो जाते हैं. (फ़ोटो कर्टसी: Pixabay)

क्या करें

- ढेर सारा पानी पिएं

- कब्ज़ से बचने के लिए एक्सरसाइज करिए

- थोड़ा-थोड़ा खाइए ताकि खाना अच्छे से पच सके

- कोल्डड्रिंग वगैरह से परहेज़ करिए

-आप चाहे तो गैस की दवाई डॉक्टर से पूछ कर ले सकती हैं

पढ़िए: प्रेग्नेंसी के दौरान भूलकर भी न करें ये चार काम

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group