लोगों ने गलत अंग्रेजी लिखने वाले लड़के का मजाक उड़ाया, सुषमा स्वराज ने मस्त जवाब दिया

इस बार सुषमा स्वराज ने ज़रा डिफरेंट तरीके से मदद की.

सरवत फ़ातिमा सरवत फ़ातिमा
मार्च 13, 2019
(फ़ोटो कर्टसी: ट्विटर)

फॉरेन मिनिस्टर सुषमा स्वराज विदेशों में बसे हिन्दुस्तानियों के लिए किसी मसीहा से कम नहीं हैं. किसी भी तरह की मदद चाहिए हो, लोग ट्विटर पर बेहिचक सुषमा से मांग लेते हैं. सुषमा भी अपनी तरफ़ से पूरी कोशिश करती हैं मदद पहुंचाने की. इसलिए वो आए दिन ट्विटर पर लोगों के दिल जीतती रहती हैं. पर हाल-फ़िलहाल में जो हुआ, उसने तो हमें उनका और भी बड़ा फैन बना दिया.

तो हुआ कुछ यूं कि मलेशिया में रहने वाले एक आदमी ने ट्विटर पर सुषमा से मदद की गुहार की. उसने एक ट्वीट लिखा. अंग्रेज़ी में. पर उसकी अंग्रेज़ी कमज़ोर थी. इसलिए उसके वाक्यों में ग्रामर की कई गलतियां थीं.

ट्वीट में लिखा था:

“मैं हिंदुस्तान का रहने वाला हूं. पंजाब से हूं. अब मैं मलेशीया में रहता हूं. यहां मेरा एक दोस्त है जो दिमागी रूप से बीमार है. मुझे उसे भारत वापस भेजना है. पर इमीग्रेशन कह रहा है कि वो हमारी कोई मदद नहीं कर सकते. कह रहे हैं मुझे पहले उसका इलाज यहां (मलेशिया) में करवाना पड़ेगा. फिर ही मैं उसे हिंदुस्तान वापस भेज पाऊंगा. मुझे आपकी मदद चाहिए.”

ये ट्वीट अंग्रेज़ी में लिखा गया था. ये रहा.

हां, अंग्रेज़ी गलत है. शायद लिखने वाले इंसान को ये भाषा नहीं आती थी. अंग्रेज़ी भाषा सबको आए ये भी ज़रूरी नहीं है. पर हिंदुस्तान में अक्सर इंसान का सोशल स्टेटस इस चीज़ से नापा जाता है कि वो अंग्रेज़ी बोल पाता है या नहीं. और अगर नहीं बोल पाता तो उसे अक्सर मज़ाक और तानों का शिकार होना पड़ता है. यही मदद मांगने वाले इंसान के साथ भी हुआ.

ट्विटर पर लोग उस आदमी का मज़ाक उड़ाने लगे. कहने लगे कि भाई, अगर अंग्रेज़ी नहीं आती तो उसमें लिखने की क्या ज़रूरत है. हिंदी या पंजाबी में लिख लेते.

अब सुषमा एक यूनियन मिनिस्टर हैं. उनके पास बहुत काम होता है. काफ़ी बिज़ी भी रहती हैं वो. पर अपने टाइट शेड्यूल से समय निकालकर वो उस आदमी के बचाव में आईं.

सुषमा ने ट्वीट कर लिखा:

“कोई दिक्कत की बात नहीं है. फॉरेन मिनिस्टर बनने के बाद मैंने हर तरह की अंग्रेज़ी को समझना शुरू कर दिया है.”

यही नहीं. उस आदमी को भी सुषमा ने ट्वीट किया. लिखा:

"मैं मलेशिया के हाई कमिश्नर को कह रही हूं. वो आपकी मदद करेंगे."

भई वाह! ये हुई न बात. गलत अंग्रेज़ी में लिखने के लिए लोग उस आदमी को बुली कर रहे थे. सुषमा ने एक ट्वीट से सबको चुप करा दिया.

पढ़िए: जिस एजेंसी ने सर्फ़ एक्सेल का ऐड बनाया है, उसके 5 और सुंदर ऐड्स

 

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group