6 मौके जब सुषमा स्वराज ने ट्रोल करने वालों को बरनॉल मांगने पर मजबूर कर दिया

भिगोकर मारा, मगर सिर्फ बातों से.

उमा मिश्रा उमा मिश्रा
अगस्त 07, 2019
सुषमा स्वराज और एक ट्वीट पर दिए जवाब का स्क्रीनशॉट.

सुषमा स्वराज सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती थीं. ये कहना अतिशयोक्ति न होगा, कि अपने पिछले कार्यकाल में सुषमा पर कई लोगों ने इन्हें ट्रोल करने की कोशिश भी की थी. जान से मारने और आपत्तिजनक टिप्पणी भी की थी. पर इन्होंने भी चुप्पी नहीं साधी. ट्रोल्स को तगड़ा जवाब दिया था. ऐसे ही कुछ तगड़े उदाहरण यहां देखिए: 

-'इंतजार क्यों, लीजिए ब्लॉक कर दिया'

-'इस भावना के लिए आपको धन्यवाद'

सुषमा स्वराज ने मांगे राम के निधन पर दुख जताते हुए लिखा, 'श्री मांगे राम गर्ग जी के अकस्मात निधन का समाचार सुन कर बहुत दुख हुआ. वो भारतीय जनता पार्टी के बहुत निष्ठावान और समर्पित कार्यकर्ता थे. उन्होंने अनेक पदों पर रह कर अपने दायित्व को बहुत जिम्मेदारी और कर्मठता से निभाया. उनके निधन से पार्टी को अपूरणीय क्षति पहुंची है.'

सुषमा स्वराज के इस ट्वीट के जवाब में इरफान खान नाम के एक ट्विटर यूजर ने लिखा, ‘आपकी भी बहुत याद आएगी एक दिन शीला दीक्षित की तरह अम्मा.’

सुषमा स्वराज ने इरफ़ान के जवाब में लिखा, ‘इस भावना के लिए आपको मेरा अग्रिम धन्यवाद.’

sushma-jawab-to-sheila_080719113121.jpgतस्वीर : ट्विटर.

-'मुझे भाषा से कोई आपत्ति नहीं है'

2016 में एक युवक ने सुषमा से ट्वीटर पर मदद मांगी थी. पोस्ट अंग्रेजी में था. इसमें उसने लिखा था कि वो भारत से है, मेलेशिया में रह रहा है. उसके एक दोस्त को मानसिक परेशानी है. इसी वजह से वो उसे भारत भेजना चाहता है. इतना लिखने के बाद उसने सुषमा स्वराज से मदद मांगी थी.

अब ये पोस्ट अंग्रेजी में थी. पर टूटी-फूटी भाषा में. तभी इस पर एक बंदे ने मजाक उड़ाना शुरू कर दिया. उसने लिखा कि भाई हिंदी या पंजाबी में ही लिख देता. 

फिर सुषमा स्वराज ने लिखा कि इस भाषा में कोई समस्या नहीं है. विदेश मंत्री बनने के बाद उन्होंने हर तरह के अंग्रेजी उच्चारण और व्याकरण के बारे में सीखा है.  

-'मैं ही हूं, मेरा भूत नहीं' 

एक बार उनके ट्वीटर हैंडल ऑपरेटिंग पर भी सवाल उठाया गया था. एक यूजर ने लिखा था कि ये जो ट्वीट्स किए जा रहे हैं, वो सुषमा स्वराज नहीं कर रही हैं. कुछ पीआर हैं, जो अपनी ड्यूटी कर रहे हैं और इसके लिए उन्हें पैसा भी दिया जा रहा है.

तब भी सुषमा स्वराज ने लिखा था कि बेफिक्र रहें, ये मैं ही हूं, मेरा भूत नहीं.

sushmna_080719012809.jpg

'मैं इसमें आपकी कोई मदद नहीं कर सकती हूं'

इस ट्वीट में एक यूजर ने अपना फ्रिज ठीक करवाने के लिए ट्वीट किया था. जिसके बाद सुषमा ने ट्वीट कर इस पर जवाब दिया था. और कहा था कि वो इसमें उनकी कोई मदद नहीं कर सकती हैं. मैं लोगों की मदद करने में व्यस्त हूं.

'कहीं भी होंगे, आपकी मदद की जाएगी'

एक यूजर ने एक बार सुषमा को ट्वीट कर लिखा कि मैं मार्स पर फंस गया हूं. तब सुषमा ने जवाब दिया था कि आप कहीं भी फंसें होंगे, वहां आपकी मदद भारतीय दूतावास करेगा. 

-'क्योंकि मैं चौकीदार हूं'

एक यूजर ने सुषमा स्वराज को ट्वीट कर लिखा कि आप अपने नाम के आगे क्यों चौकीदार लिख रही हैं, हमें तो लगा आप हमारी विदेश मंत्री है. तब सुषमा स्वराज ने जवाब दिया कि क्योंकि मैं चौकीदार हूं. 

इसे भी पढ़ें:  सुषमा स्वराज: 1 करोड़ से ज्यादा फॉलोवर्स वाली ट्विटर मसीहा, जो एक भी व्यक्ति को फॉलो नहीं करती थीं

 

 

 

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2021 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group