BJP से कांग्रेस में वापसी करने वाली कृष्णा तीरथ ने 4 साल पहले कहा था- 'कांग्रेस मुक्त भारत बनाएंगे'

देश में आया लोकसभा चुनाव, और कांग्रेस में वापस आईं कृष्णा.

उमा मिश्रा उमा मिश्रा
अप्रैल 13, 2019
कृष्णा तीरथ ने 2015 में बीजेपी जॉइन की थी. फोटो- ट्विटर

लोकसभा चुनाव चल रहे हैं. कई नेता एक पार्टी छोड़ दूसरी पार्टी जॉइन कर रहे हैं. उसमें से एक ऐसी नेता भी हैं, जो कांग्रेस से बीजेपी गई थीं, और फिर अब कांग्रेस में वापस आ गई हैं. वो नेता हैं कृष्णा तीरथ. 2014 में बीजेपी की सरकार बनने के बाद, 2015 में बहुत सारे नेताओं ने बीजेपी जॉइन कर ली थी. कृष्णा भी उनमें से एक थीं. उन्होंने कांग्रेस छोड़ते वक्त कहा था, 'कांग्रेस में नेतृत्व की भारी कमी है. इससे पार्टी ने अपनी दिशा खो दी है'.

कृष्णा ने कहा था कि वो बीजेपी में इसलिए हैं, ताकि वो देश और समाज के हित के लिए काम कर सकें. कांग्रेस मुक्त भारत बनाकर नौजवानों और महिलाओं को आगे बढ़ा सकें.

ये शब्द कृष्णा तीरथ के ही हैं, जिन्होंने चार साल में ही बीजेपी को छोड़कर कांग्रेस जॉइन कर लिया है. इनका राजनीतिक सफर काफी विवादित रहा है.

b9jz459icaerjq5_750x500_041319052207.jpgPhoto : twitter

पहले जानिए कि कृष्णा आखिर हैं कौन?

कृष्णा तीरथ. कांग्रेस के पुराने चेहरों में से एक. सांसद थीं, विधायिका थीं. और राजनेता हैं. दिल्ली के करोल बाग में साल 1955 में पैदा हुईं. डीयू से एमए और बीएड की पढ़ाई की. साल 1984 से 2004 तक दिल्ली विधानसभा की सदस्य रहीं. 1991 में उन्होंने लोकसभा चुनाव लड़ा. लेकिन हार गईं. 1985, 1993, 1998 में विधायिका बनीं और 2004 में दिल्ली विधानसभा की उपाध्यक्ष भी रहीं. बाद में 2009 में उत्तर-पूर्वी दिल्ली से सांसद और केंद्र सरकार में मंत्री के पद पर रहीं. इन्हें सामाजिका कार्यों में काफी इंटरेस्ट है. पार्टी में इन्हें दलित चेहरे के तौर पर भी देखा गया. साल 2006 में ये महिला सशक्तिकरण समिति की अध्यक्ष भी थीं.

विवाद भी साथ चलते रहे-

साल 2010 में कृष्णा केंद्रीय महिला और विकास मंत्री थीं. राष्ट्रीय बालिका दिवस था. मंत्रालय की ओर से अखबारों में बड़े-बड़े प्रचार के लिए ऐड छपा. अब पार्टी के लोग होते तो दिक्कत न होती. लेकिन पूर्व पीएम मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी की फोटो के साथ-साथ पाकिस्तान के पूर्व एयर चीफ मार्शल की फोटो छाप दी गई. चोरी और फिर सीना जोरी वाला हाल हुआ. क्योंकि कृष्णा तीरथ ने अपने मंत्रालय की गलती नहीं मानी और सारा इल्जाम मीडिया पर थोप दिया. बाद में उन्होंने मांफी भी मांगी और जांच करने के लिए भी कहा.

krishna_1555062251_618x347_750x500_041319052749.jpgPhoto : Twitter

ठीक उसी साल 2010 के सितंबर महीने में एक बार फिर कृष्णा तीरथ मीडिया की हेडलाइन और प्राइम टाइम में छाई रहीं. वजह थी इस बार उनकी बेटी यश्वी. बेटी को दूरदर्शन में एंकर और रिपोर्टर की जॉब मिली. लेकिन सेंट्रल एडमिनिस्ट्रेटिव ट्रिब्यूनल यानी CAT ने ये जॉब रद्द कर दी. CAT के हेड ने कहा कि यश्वी को इंटरव्यू में ज्यादा मार्क्स दिए गए हैं, इस वजह से ये नियुक्ति रद्द की जा रही है.

कृष्णा ने 18 फरवरी 1976 के दिन शादी की. तीन बेटियों की मां हैं. स्पोर्ट्स भी इन्हें काफी पसंद है. इन्होंने वॉलीबाल और एथलेटिक्स में इंटर कॉलेज और नेशनल लेवल पर भी खेला है. दिल्ली के बाहर होने वाले टूर्नामेंट में भी इन्होंने हिस्सा लिया है. 

इसे भी पढ़ें- मेनका गांधी की ये बातें सुनकर पता चलता है कि हमारा लोकतंत्र कितना बीमार पड़ा हुआ है

 

 

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group