क्या आपका एक ब्रेस्ट दूसरे ब्रेस्ट से साइज़ में अलग है?

दुनिया में लगभग हर औरत ऐसा सोचती है.

(फ़ोटो कर्टसी: Pixabay)

क्या आप भी दिन में कम से कम एक बार शीशे के सामने खड़ी होकर ये सोचती हैं- ‘क्या मेरा एक ब्रेस्ट दूसरे ब्रेस्ट से बड़ा है?’. पर ऐसा करने वाली आप अकेली नहीं है. लगभग हम सभी लड़कियां ये कर चुकी हैं. और इस बारे में सोच-सोचकर अपना सिर खपा चुकी हैं. लेकिन ये कोई बड़ी बात नहीं है. एकदम नॉर्मल चीज़ है. पर बात ये है कि वाकई में आपका एक ब्रेस्ट दूसरे से बड़ा होता है. ये आपके दिमाग की उपजभर नहीं है.

ऐसा क्यों होता है?

दो ब्रेस्ट बिलकुल एक जैसे नहीं होते. हमारा शरीर परफेक्ट नहीं होता. कहने का मतलब ये कि इसका दाहिना और और बायां हिस्सा दिखने में एक जैसा नहीं होता. अगर भरोसा नहीं है, तो ये चेक करने के लिए आप भी शीशे के सामने खड़ी होकर देख सकती हैं. ब्रेस्ट की बात तो हो गई. अब अपनी आखों पर गौर करिए. आपकी सीधी आंख उल्टी आंख से साइज़ में थोड़ी अलग नज़र आती है. शरीर के बाकी अंगों के साथ भी ऐसा ही होता है.

इसके बारे में और तफ़सील से जानने के लिए हमने बात की डॉक्टर अपूर्वा खन्ना से. वो एक स्त्रीरोग विशेषज्ञ हैं और मुंबई में मदर एंड चाइल्ड क्लिनिक चलाती हैं.

Image result for difference in breast size

(फ़ोटो कर्टसी: Pixabay)

अपूर्वा ने हमें हमसे बातचीत में कहा:

“कुछ स्टडीज़ के मुताबिक आपका लेफ्ट ब्रेस्ट आपके राइट ब्रेस्ट से थोड़ा बड़ा होता है. दाहिने और बाएं स्तनों में कभी-कभी बहुत हल्का अंतर होता है, तो कभी-कभी ये फर्क एक कप साइज़ का भी हो सकता है. ये ब्रेस्ट टिश्यू के साइज़ में अंतर की वजह से होता है. साथ ही चमड़े की इलास्टिसिटी यानी खिंचाव भी इसके पीछे की एक बड़ी वजह है.”

क्या ये ठीक हो सकता है?

नहीं.

डॉक्टर खन्ना कहती हैं:

“आप चाह कर भी इनके साइज़ को बराबर नहीं कर सकतीं. एक्सरसाइज़ से भी नहीं. हालांकि इंटरनेट पर इसे ठीक करने के लिए सैकड़ों तरह के उपचार मौजूद हैं. लेकिन असल में ये पॉसिबल नहीं है. ब्रेस्ट टिश्यू के ठीक नीचे पेकटोरल नाम की मासपेशियां होती हैं. जब आप चेस्ट की एक्सरसाइज़ करती हैं, तो इन मासपेशियों में तनाव आता है. पर इससे आपके ब्रेस्ट साइज़ पर कोई ख़ास असर नहीं पड़ता. वैसे ये एकदम नॉर्मल बात है. इससे परेशान होने की कोई जरूरत नहीं.”

 पढ़िए: क्या है सेल्युलाईट, जिससे औरतों की स्किन लटकने लगती है और गड्ढे पड़ जाते हैं?

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group