स्किन पर सफेद रंग के धब्बे क्यों हो जाते हैं?

क्या सफेद धब्बे कभी ठीक हो सकते हैं?

सरवत फ़ातिमा सरवत फ़ातिमा
अगस्त 10, 2019
(फ़ोटो कर्टसी: Pixabay)

अचानक स्किन पर सफ़ेद दाग दिखने लगे तो कोई भी परेशान हो जाएगा. कई बार ये इतनी बड़ी बात नहीं होती. घरेलू उपायों से इनका इलाज हो जाता है. पर सफ़ेद दागों के पीछे कोई एक नहीं, कई वजहें होती हैं. तो कब आप इसका इलाज घर कर सकते हैं और कब डॉक्टर को तुरंत दिखाना चाहिए, ये कंडीशन पर निर्भर करता है.

इसके बारे में और समझने के लिए हमने बात की डॉक्टर वेदिका प्रसाद से. वो दिल्ली में काया स्किन क्लिनिक में डॉक्टर हैं. उन्होंने ने हमें कुछ वजहें बताईं:

1. टीनिया वर्सीकोलर

इसमें शरीर पर सफ़ेद रंग के दाग पड़ते हैं. कुछ समय बाद ये गुलाबी, लाल या भूरे भी हो जाते हैं. ये वक़्त के साथ बढ़ते जाते हैं. इसके लक्षण हैं खुजली, स्किन में ज़्यादा ड्राईनेस, और पपड़ी बनना. इसके होने के पीछे कई वजहें हो सकती हैं जैसे स्किन पर ईस्ट की हद से ज़्यादा ग्रोथ हो जाना, ज़्यादा पसीना आना, ऑयली स्किन, कमज़ोर इम्यून सिस्टम वगैरह. इसका इलाज है दवाइयां. आपको डॉक्टर को दिखाना होगा. ये एक दो महीने में ठीक हो सकता है.

Image result for Tinea versicolor

कुछ ऐसे दिखते हैं टीनिया वर्सीकोलर के दाग. (फ़ोटो कर्टसी: Pixabay)

2. एक्जिमा

इसमें स्किन पर लाल उभरे हुए चाख्त्ते पड़ जाए हैं. इनमें काफ़ी खुजली होती है. ये सफ़ेद भी पड़ जाते हैं. अक्सर ये चेहरे, हाथ, पैर, आंखों के ऊपर और घुटनों के पीछे होते हैं. वक़्त के सतह ये पैचेज़ मोटे होते जाते हैं. अगर इन्हें खुजला लिया जाए तो स्किन फटने लगती है. इससे पस भी निकलता है. ये अपने आप कभी भी बढ़ या घाट जाते हैं. कई बार तो सालों तक पता भी नहीं चलता कि किसी को एक्जिमा है. क्योंकि इसके लक्षण इतनी आसानी से पता नहीं चलते. ऐसा होना ज़्यादातर पांच साल की उम्र से शुरू हो जाता है. जिन लोगों को एलर्जी होती है, ये उनमें ज़्यादा कॉमन है. ये दवाइयों से काबू में आ सकता है.

Image result for eczema

ऐसे दिखते हैं एक्जिमा के दाग. (फ़ोटो कर्टसी: Pixabay)

3. विटिलिगो

हमारी स्किन एक चीज़ बनाती है मेलानिन. यही आपका स्किन कलर तय करता है. विटिलिगो में स्किन के सेल्स मेलानिन बनाना बंद कर देते हैं. बिना मेलानिन स्किन पर सफ़ेद दाग पड़ जाते हैं. ये शरीर में कहीं भी हो सकते हैं. कभी-कभार ये शरीर के सिर्फ़ एक साइड पर होता है. ज़्यादातर इसके धब्बे घुटने, हाथ, चेहरे पर होते हैं. ये किसी भी उम्र में हो सकता है. सेल्स मेलानिन बनाना क्यों बंद कर देते हैं? इसका जवाब अभी सही तरीके से मेडिकल साइंस के पास भी नहीं है. पर इसका एक जवाब इम्यून सिस्टम में दिक्कत हो सकता है. ये पूरे तरीके से ठीक नहीं हो सकता. हां, कम किया जा सकता है. इसके लिए सर्जरी से लेकर दवाइयां है.

Image result for Vitiligo

ऐसे दिखते हैं विटिलिगो के दाग. (फ़ोटो कर्टसी: Pixabay)

4. धूप की वजह से धब्बे

इन्हें सन स्पॉट्स भी कहा जाता है. ये ज़्यादा धूप में रहने की वजह से होते हैं. इसमें स्किन पर छोटे-छोटे सफ़ेद दाग हो जाते हैं. ज़्यादातर ये हाथ और पैर पर पाए जाते हैं. इनमें कोई दर्द नहीं होता. ये औरतों में ज़्यादा होता है. ख़ासतौर पर उन लोगों में जिनका स्किन कलर लाइट है. इलाज के तौर पर आपको सनस्क्रीन लगाना चाहिए. पूरी तरीके से ठीक करने के लिए आपको डॉक्टर के पास जाना पड़ेगा.

Image result for idiopathic guttate hypomelanosis

ऐसे दिखते हैं सन स्पॉट्स. (फ़ोटो कर्टसी: Pixabay)

पढ़िए: च्यूइंग गम खाने से चेहरे का मोटापा घटता है, इस बात में कितनी सच्चाई है?

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group