Budget 2019: मोदी सरकार के चुनावी बजट में महिलाओं के लिए ये तीन चीज़ें है

उम्मीदें तो बहुत थीं, लेकिन...

लालिमा लालिमा
फरवरी 01, 2019
प्रतीकात्मक तस्वीर. रॉयटर्स

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने आखिरकार चुनावी बजट की पेटी खोल दी. कुछ ही दिनों बाद लोकसभा चुनाव होने वाले हैं. इसलिए ये जो बजट पेश हुआ है, वो अंतरिम बजट है. कहा जा रहा था, कि सरकार महिलाओं के लिए काफी कुछ ऐलान कर सकती है. काफी उम्मीदें थीं. लेकिन महिलाओं के लिए ऐसा कुछ खास ऐलान हुआ नहीं. कोई खास सौगात, महिलाओं को नहीं मिली.

दो-तीन ऐलान हुए. जो कुछ भी हमारे मंत्री जी ने कहा, हम यहां लिख दे रहे हैं. पढ़ लीजिए-

- इस अंतरिम बजट में महिलाओं की सुरक्षा और सशक्तिकरण मिशन के लिए 1330 करोड़ रुपए मुहैया कराए गए है.

- पीयूष गोयल ने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की सैलरी 50 फीसदी बढ़ाई जाएगी.

- महिलाओं के लिए सबसे खास ऐलान, उज्ज्वला योजना को लेकर हुआ. इस योजना के तहत अभी तक 6 करोड़ एलपीजी कनेक्शन दिए जा चुके हैं. अब सरकार इनकी संख्या बढ़ाकर 8 करोड़ तक करने की योजना में है.

rts2d6oy_020119053551.jpgपीयूष गोयल. फोटो- रॉयटर्स

पीयूष गोयल ने कहा, 'सरकार ने उज्ज्वला योजना के तहत, 8 करोड़ गैस कनेक्शन बांटने का लक्ष्य रखा है. अगले साल तक इस लक्ष्य को हासिल करने का मकसद है. 6 करोड़ परिवारों को एलपीजी कनेक्शन दिए जा चुके हैं. इन परिवारों को धुएं से मुक्ति मिल गई है.'

rts22paw_020119053647.jpgप्रतीकात्मक तस्वीर. रॉयटर्स

- 40 हजार तक के ब्याज पर TDS नहीं कटेगा. पहले ये सीमा 10 हजार थी, अब 30 हजार बढ़ा दी गई है. ये केवल महिलाओं के लिए नहीं है, बल्कि हर किसी के लिए है, जो बैंक में एफडी करते हैं, या फिर पोस्ट ऑफिस में किसी स्कीम पर पैसा लगाते हैं.

इसे ठीक तरह से समझते हैं. पहले ये जान लीजिए कि टीडीएस का फुलफॉर्म होता है टैक्स डिडक्शन एट सोर्स. यानी जिस जगह पर आप पैसा जमा करते हैं, वो सोर्स होता है. वही सोर्स, टैक्स के रूप में रकम काट लेता है. इसे शुरू करने का मकसद था, कि सोर्स पर ही टैक्स काट लेना.

मान लीजिए कि आपके पास 10 लाख रुपए हैं. आप इसकी एफडी कराते हैं. या फिर पोस्ट ऑफिस की किसी स्कीम पर लगाते हैं. अगर वो स्कीम पांच साल की है. और 7 फीसदी की ब्याज दर के हिसाब से आपका पैसा बढ़ता है. तो कमाउंड इंटरेस्ट के हिसाब से आपकी मूल रकम पांच सालों में करीब 14 लाख हो जाएगी. पांच साल बाद आपको 14 लाख रुपए मिलेंगे. लेकिन इसमें से 4 लाख रुपए आपके पैसों पर बढ़ा हुआ ब्याज होगा. इसी 4 लाख पर सोर्स आपका टीडीएस काट लेगा.

लेकिन अब 40 हजार ब्याज पर टीडीएस नहीं कटने की छूट मिल गई है. तो इन 4 लाख रुपयों में से आप 40 हजार घटा दें. बचे 3 लाख 60 हजार रुपए. इस रकम का 10 फीसदी आपका टीडीएस के तौर पर कट जाएगा. यानी 36 हजार रुपए कट जाएंगे. अब आपको मिलेंगे 3 लाख 24 हजार रुपए. मतलब पांच साल पहले जमा कराए गए 10 लाख रुपए की जगह आपको 13 लाख 64 हजार रुपए मिलेंगे. 36 हजार रुपए आपके ब्याज पर टीडीएस कट गया.

पहले 10 हजार से ज्यादा के ब्याज पर टीडीएस कटता था, अब 40 हजार से ज्यादा के ब्याज पर कटेगा. अगर पहले वाली दर ही लागू करके देखी जाए, तो जो 10 लाख रुपए आप जमा कराते, वो पांच साल बाद आपको 13 लाख 61 हजार रुपए मिलते.

- इसके अलावा पीयूष गोयल ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के बारे में बात की. बताया कि इस योजना के तहत बहुत सी गर्भवती महिलाओं को लाभ मिला है. अपनी सरकार की तारीफ करते हुए, गोयल ने कहा कि उनकी सरकार ने मैटरनिटी लीव 26 हफ्तों की कर दी है. यानी गर्भवती महिलाओं का काफी ध्यान रखा है, मोदी सरकार ने.

rtx6airc-1_020119053702.jpgप्रतीकात्मक तस्वीर. रॉयटर्स

खैर, इन सबके अलावा, इस बजट में महिलाओं पर किसी तरह का कोई खास फोकस नहीं किया गया है. उम्मीद तो काफी थी, लेकिन कुछ हुआ नहीं.

इसे भी पढ़ें- मुबारक हो, मोदी समर्थकों ने इस बार घटियापन का चरम छू लिया है

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group