कार लोन की क़िश्त भरनी थी, इसलिए कैब ड्राइवर ने कार में बैठी मॉडल की हत्या कर दी

कैब ड्राइवर ने पति से हत्या करने के बाद 5 लाख रुपए की मांग भी की थी.

उमा मिश्रा उमा मिश्रा
अगस्त 25, 2019
आरोपी ओला कैब ड्राइवर ने मॉडलिंग कर रही पूजा की पैसों के लिए ह्त्या कर दी.

एक कैब ड्राइवर ने पैसों के लिए एक लड़की का खून कर दिया. क्योंकि उसे कार लोन की किस्त भरनी थी. मामला बेंगलुरु का है. तीन हफ्ते पहले एक लड़की की हत्या की गई थी. 22 साल के ओला कैब ड्राइवर नागेश ने इसे अंजाम दिया था. लड़की का नाम था- पूजा. वो 32 साल की थी. मॉडलिंग और इवेंट मैनेजर, दोनों का काम कर रही थी.

द न्यू इंडिनय एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक, पूजा कोलकाता की रहने वाली थीं. वो मॉडलिंग के साथ-साथ फ्रीलांसिंग इवेंट मैनेजर भी थीं. वो 30 जुलाई को किसी इवेंट के काम से बंगलुरु आईं थीं. 31 जुलाई को उन्हें अपने घर यानी कोलकाता लौटना था. पूजा ने 30 जुलाई की दोपहर में होटल जाने के लिए नागेश की कैब बुक की थी. साथ ही नागेश से पूछा कि क्या वो दूसरे दिन यानी 31 जुलाई को उसे तड़के 4 बजे एयरपोर्ट ड्रॉप करने आ जाएगा? बात 1200 रुपए में ख़त्म हुई. नागेश राज़ी हो गया. 

नागेश को लगा कि लड़की पैसे वाली है. इसे लूटा जा सकता है. वो आने के लिए तैयार हो गया. दूसरे दिन यानी 31 जुलाई को तड़के नागेश ने पूजा को पिक किया.

pooja_082519060103.jpgपूजा, जिनकी हत्या कर दी गई.

पूजा की गाड़ी में आंख लग गई. जब नागेश ने देखा कि वो सो रही है, तो उसने गाड़ी एक सुनसान जगह की तरफ मोड़ ली. और उसके के सिर पर जैक रॉड से हमला कर दिया. पूजा बेहोश हो गई. नागेश सामान चोरी कर भागने लगा. लेकिन इसी बीच पूजा को होश आ गया. वो चिल्लाने लगी. नागेश डर गया. पूजा ने भागने की कोशिश की तो नागेश ने उस पर पीछे से हमला किया. और बाद में उसकी बेरहमी से क़त्ल कर दिया.

पुलिस के मुताबिक, पूजा की बॉडी बेंगलुरु के केम्पेगोडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास ही फील्ड में पड़ी मिली थी. वहां के एक लोकल आदमी ने इसकी जानकारी दी थी. पूजा का चेहरा पहचान में नहीं आ रहा था. तो पुलिस ने उसके कपड़ों से मामले की जांच शुरू की.

उन्होंने पिछले 2 साल में शॉपिंग मॉल्स और ऑनलाइन से जिन लोगों ने उस ब्रांड के कपडे़ खरीदे थे, उनकी लिस्ट मंगवाई गई. तब मालूम हुआ कि पूजा लोकल नहीं है. ये बंगाल की हैं. मामले की आगे की जांच करने के लिए दो टीमें बनाईं और उन्हें पश्चिम बंगाल भेजा गया.

nagesh_082519060138.jpgओला कैब ड्राइवर नागेश, जिसने लूटपाट के बाद पूजा की हत्या कर दी. इसे अब गिरफ्तार कर लिया गया है.

डेकन हेरॉल्ड में छपी खबर के मुताबिक, कोलकाता के न्यू टाउन पुलिस स्टेशन में पूजा की मिसिंग कम्प्लेन दर्ज थी, जो उसके पति सुदीप ने दर्ज करवाई है. पुलिस उनसे मिली. सुदीप ने बताया कि 31 जुलाई से पूजा का फोन स्विच ऑफ आ रहा था. इसलिए उन्हें चिंता हो रही थी.

उन्होंने पूजा को कई मैसेज भी किए थे, जिसका जवाब दो दिन बाद आया. मैसेज में लिखा था कि पूजा हैदराबाद में है, कुछ इमरजेंसी है और पैसों की जरूरत है.

मैसेज इंग्लिश में था. और जिस तरह इंग्लिश लिखी हुई थी, उससे सुदीप को शक हो गया. सुदीप के मुताबिक, नागेश उससे पांच लाख रुपए की भी डिमांड कर रहा था. पर सुदीप ने देने से मना कर दिया. और फिर उन्होंने पुलिस की हेल्प ली.

जांच में पुलिस को नागेश के बारे में पता चला. ये भी पता चला कि पूजा ने इसी की कैब ली थी. क्योंकि उसने 30 जुलाई को कैब का इस्तेमाल किया था. और पूजा के फोन से भी जो मैसेज भेजा गया था, वो दो दिन बाद भेजा गया था.

ola_082519060220.jpgसांकेतिक तस्वीर. फोटो साभार : बिज़नेस टुडे.

लोकेशन ट्रेस करने के बाद नागेश को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

रिपोर्ट के मुताबिक, नागेश मांड्या (कर्नाटक) का रहने वाला है. वो अपने परिवार के साथ बेंगलुरु में रह रहा था. जब पुलिस उसके घर उसको तलाश करने के लिए पहुंची, तो उसके परिवार वाले हैरान रह गए थे. पुलिस ने नागेश को टैक्सी स्टैंड के पास से पकड़ लिया, जब वो कहीं जा रहा था.

नागेश ने कुछ महीने पहले ही ओला जॉइन किया था. उसने सिर्फ हाईस्कूल तक पढ़ाई पूरी की है. नागेश ने कार लोन लिया था, जिसकी दो किश्त जमा करनी थी और उसे भी पूरा करने के लिए उसे पैसों की जरूरत थी. इसीलिए उसने पूजा की हत्या कर दी.

इसे भी पढ़ें : 5 स्टार होटल में नौकरी का झांसा देकर 600 औरतों की नग्न तस्वीरें मंगा लीं

वीडियो भी देखें : 

 

 

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group