डियर आंटी! लिव इन रिलेशन के अलावा भी मेरी जिंदगी में बहुत कुछ है

कुंवारी लड़की के पास ऐसा क्या होता है, जो सेक्स कर चुकी लड़की के पास नहीं होता.

नेहा कश्यप नेहा कश्यप
अप्रैल 26, 2019

डियर आंटी,

आप मेरी पड़ोसी हैं. आप जैसे ज्यादातर पड़ोसियों के लिए सबसे जरूरी काम होता है जज करना. उन लड़कियों को जज करना जो आपके मुताबिक गलत हैं. जो आपके हिसाब से जिंदगी नहीं जीती. आपके तौर-तरीकों से नहीं रहतीं. पता है, आपके जज करने से किसी को फर्क नहीं पड़ता. मुझे भी नहीं.

आप अपने आसपास रहने वाली हर लड़की की शादी करा देना चाहती हैं. सही भी है, क्योंकि आपने की है. जिन भाभी से आप बालकनी में खड़ी होकर घंटों बातें करती हैं, उन्होंने भी की है. मेरे घर में साफ-सफाई के लिए जो लक्ष्मी दीदी आती हैं न, उन्होंने भी की है.

हमारी बिल्डिंग में शायद मैं ही अकेली वो औरत हूं, जो शादी किए बिना किसी पुरुष के साथ रहती है.

gossip-girl-750x500_042619043019.jpg

आप रोज सुबह उठते ही मुझे और मेरी जैसी तमाम लड़कियों को जज करना शुरू कर देती हैं, क्योंकि वो शादी किए बिना अपने बॉयफ्रेंड के साथ रहती हैं. आप कहती हैं कि अब तो शादी तक 'कुंवारी' रहने वाली लड़कियां रही ही नहीं.

मैं बस आपसे ये पूछना चाहती हूं कि एक कुंवारी लड़की के पास ऐसा क्या होता है, जो सेक्स कर चुकी लड़की के पास नहीं होता.

मैं बताती हूं. ऐसा कुछ भी नहीं होता.

हम कतई बिगड़ी लड़कियां नहीं होतीं. दरअसल बिगड़ी हुई लड़की जैसा कोई कॉन्सेप्ट नहीं होता. हर कोई अपने मुताबिक जी रहा है, जैसे आप अपने हिसाब से जी रही हैं.

मेरे जैसी लड़कियां वो होती हैं, जो दूसरे को जज किए बिना उन्हें उनकी जिंदगी जीने देती हैं. हम सिर्फ पार्टी नहीं करतीं. हमारे करियर होते हैं. हम सेल्फ डिपेंडेंट होती हैं. हमारे घरवालों को हम पर गर्व होता है. सबसे बड़ी बात हम अपनी जिंदगी से खुश होती हैं.

2-750x500_042619043308.jpg

डियर आंटी, दो लोग सिर्फ सेक्स के लिए एक-दूसरे के साथ नहीं रहते. वो साथ रहते हैं ताकि एक-दूसरे को समझ सकें. एक-दूसरे का साथ दे सकें. वो जिंदगी को आसान बनाने के लिए साथ होते हैं.

अगर आप और अंकल भी शादी से पहले साथ रह लेते, तो आज आप दोनों अलग-अलग वॉक के लिए नहीं जाते. भाभी अपने पति के लेट नाइट पार्टी के शौक से परेशान नहीं होतीं. मेरी मेड को चोट के निशान नहीं छुपाने पड़ते.

मैं आपकी सोच का सम्मान करती हूं, लेकिन सिर्फ तब तक जब तक आप उन्हें मुझपर न थोपें. आपने जिंदगी अपनी शर्तों पर जी है. मैं मेरी शर्तों पर जी रही हूं. आपको उससे परेशानी नहीं होनी चाहिए.

अपनी दोनों बेटियों से भी शादी की ज़िद बंद कर दीजिए. वो हॉस्टल से ज्यादा आपके साथ वक्त बिताने लगेंगी.

और हां, गर्मी में कॉटन के शॉर्ट्स बहुत कंफर्टेबल होते हैं. आप भी ट्राय करिएगा.

ये भी पढ़ें- प्रेग्नेंसी के सवाल पर दीपिका ने बहुत बड़ी और जरूरी बात कही है

 

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group