वो चीज़ें जो आपको प्रेग्नेंसी के दौरान भूलकर भी नहीं करना चाहिए

ये मत करो. वहां मत जाओ. ये मत खाओ. उफ्फ्फ़

सरवत फ़ातिमा सरवत फ़ातिमा
मार्च 14, 2019

प्रेगनेंट होते ही औरत एक लाइव ग्रेनेड बन जाती है. नहीं, कहने का मतलब है कि आसपास के लोग काफ़ी सतर्क हो जाते हैं. होना भी चाहिए. पर पाबंदियों की लिस्ट काफ़ी लंबी हो जाती है. ये मत करो. वहां मत जाओ. ये मत खाओ. वगैरह-वगैरह. इस लिस्ट में आधी से ज़्यादा चीज़ें तो मिथक होती हैं. पर क्योंकि ये बातें पीढ़ियों से चली आ रही हैं, इसलिए औरतें मान भी लेती है. हलाकि प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ चीज़ें ज़रूर हैं जो अवॉयड करनी चाहिए.

क्या हैं वो? ये जानने के लिए हमने डॉक्टर वंदना शर्मा से बात की. वो मैक्स हॉस्पिटल बेंगलुरु में स्त्रीरोग विशेषज्ञ हैं.

1. क्या प्रेग्नेंसी के दौरान एक्सरे नहीं करवाना चाहिए?

डॉक्टर वंदना शर्मा कहती हैं:

“प्रेग्नेंसी के दौरान एक्सरे को लेकर काफ़ी बातें होती रहती हैं. क्या ये औरतों के लिए सेफ़ है या नहीं? एक्सरे करते वक़्त अटेंडेंट भी आपसे पूछते हैं कि कहीं आप प्रेगनेंट तो नहीं? वो इसलिए क्योंकि एक्सरे के दौरान रेडिएशन होता है. आसान भाषा में समझें तो उसमें से रेज़ निकलती हैं. अगर ये रेज़ काफ़ी हाई डोज़ में हैं, ख़ासतौर पर प्रेग्नेंसी की बिल्कुल शुरुआत में तो मिसकैरेज का ख़तरा रहता है. पर वो समय निकलने के बाद ज़रूरी नहीं कि आपके बच्चे पर एक्सरे का कोई असर हो ही. अगर आप अपने हाथों, पैरों, या सीने का एक्सरे करवाती हैं तो रेडिएशन का आपके बच्चे पर कोई असर नहीं होगा. पर अगर आप पेट, उसके निचले हिस्से, पेडू, पीठ के निचले हिस्से, या किडनी का एक्सरे करवाती हैं तो चांसेस हैं कि एक्सरे के दौरान निकलने वाली रेज़ आपके गर्भाशय तक भी पहुंचें. इसलिए एक्सरे करवाने से पहले हमेशा अटेंडेंट को बता दें.”

Image result for pregnancy

(फ़ोटो कर्टसी: Pixabay)

2. क्या प्रेग्नेंसी के दौरान हवाई यात्रा नहीं करनी चाहिए?

आमतौर पर कहा जाता है की प्रेग्नेंसी के 35वे हफ़्ते तक आप हवाई यात्रा कर सकती हैं. पर उसके बाद इसपर कुछ डॉक्टर्स पाबंदी लगा देते हैं. डॉक्टर वंदना शर्मा बताती हैं:

“अगर आपको डाईबीटीज़ या हाई ब्लड प्रेशर की दिक्कत रहती है तो हो सकता है डॉक्टर आपको प्रेग्नेंसी के 29वें हफ़्ते के बाद से हवाई यात्रा करना मना कर दे. काफ़ी एयरलाइन्स भी औरतों को 32वें हफ़्ते के बाद हवाई यात्रा करने से मना करती हैं. इसलिए क्योंकि काफ़ी ऊंचाई पर ऑक्सीजन का दबाव रहता है. कुछ केसेज़ में, ख़ासतौर पर अगर आपको डाईबीटीज़ या हाई ब्लड प्रेशर की दिक्कत है तो मिसकैरेज का ख़तरा रहता है.”

Image result for air travel

फ़ोटो कर्टसी: Pixabay

3. प्रेग्नेंसी के दौरान क्या औरतों को शराब नहीं पीनी चाहिए?

भई, इस मामले में बहुत कन्फ्यूज़न रहता है. कुछ डॉक्टर्स कहते हैं कि प्रेग्नेंसी के दौरान शराब बिल्कुल नहीं पीनी चाहिए. कुछ कहते हैं कि कभी-कभार शराब पीने में कोई बुराई नहीं है. इससे बच्चे पर कोई असर नहीं होता. इसपर अब तक काफ़ी रिसर्च भी हो चुकी है. रिजल्ट अभी भी 50-50 है. इसपर डॉक्टर वंदना शर्मा कहती हैं:

“वैसे तो ज़्यादातर डॉक्टर प्रेग्नेंसी के दौरान शराब पीने से मना ही करते हैं. ख़ासतौर पर प्रेग्नेंसी के पहले तीन महीनों में. चौथे और उसके बाद के महीनों में कभी-कभार शराब पीना ज़्यादा ख़तरनाक नहीं होता. रिस्क हमेशा ये रहता है कि शराब प्लेसेंटा से होते हुए बच्चे के खून में मिल सकती है. प्लेसेंटा वो अंग होता है जो प्रेग्नेंसी के दौरान औरत के गर्भाशय में बनता है. इसी की मदद से पोषण और ऑक्सीजन बच्चे तक पहुंचता है. इसके अलावा तीन दिक्कतें और हो सकती हैं:

-समय से पहले लेबर में चले जाना.

-ब्रेस्ट मिल्क न बनना.

-अबॉर्शन होने का ख़तरा.”

Image result for with wine in hand

फ़ोटो कर्टसी: Pixabay

4. ज़्यादा मात्रा में विटामिन ए न लें

प्रेग्नेंसी के दौरान आपको पौष्टिक खाना खाना ज़रूरी है. पर कुछ चीज़ें ऐसी भी हैं जिनसे आपको बचकर रहना चाहिए. जैसे विटामिन ए. थोड़ा बहुत विटामिन ए खाने में कोई बुराई नहीं. पर ज़्यादा मात्रा में इसे नहीं खाना चाहिए. विटामिन ए कई चीज़ों में होता है. जैसे दूध, टमाटर, आम, पालक, गाजर वगैरह-वगैरह.

पर विटामिन प्रेग्नेंसी के दौरान खाने में क्या दिक्कत है?

“दिन में 5000 यूनिट से ज़्यादा विटामिन ए नहीं खाना चाहिए. अगर आपके शरीर में विटामिन ए जमा हो जाएगा तो ये आपके बच्चे की सेहत के लिए नुकसानदेह है. बहुत ज़्यादा विटामिन ए की वजह से आपके बच्चे के सिर, चेहरे, दिमाग, और कान में दिक्कत आ सकती है. ये दिक्कतें पैदा होने के समय से होती हैं.”

Image result for vitamin a

फ़ोटो कर्टसी: Pixabay

5. प्रेग्नेंसी के समय जंक खाना

अक्सर ऐसा होता है कि प्रेग्नेंसी के दौरान जंक फ़ूड खाने का मन करता है. कभी कुछ मीठा, कभी कुछ तीखा, कभी कुछ खट्टा. और ये प्रेगनेंट औरतों की बहुत बड़ी गलती होती है. चाहे जितना मन करे, पर इसका मतलब ये नहीं कि आप बस जंक ही ठूसती रहिए. आपको पौष्टिक खाना खाना बहुत ज़रूरी है. डॉक्टर वंदना शर्मा कहती हैं:

“अनहेल्दी खाना न सिर्फ़ मां के लिए नुकसानदेह है बल्कि बच्चे के लिए भी खतरनाक है. ये बच्चे के अंदर सोडियम, कैल्शियम, आयरन, और विटामिन के लेवल से छेड़छाड़ करता है. अगर आप कुछ ऐसा खाती हैं जो टेस्टी है पर हेल्दी नहीं तो ये आपके बच्चे के डेवलपमेंट के लिए नुकसानदेह है. साथ ही आपकी एनर्जी का लेवल भी काफ़ी कम रहेगा.”

Image result for junk food

पढ़िए: बच्चा पैदा करने से जुड़े वो आम पांच झूठ जो औरतें आसानी से मान लेती हैं

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group