सैलरी मांगने पर लड़की को बीच सड़क बेरहमी से पीटा, लोग वीडियो बनाने में बिज़ी थे

सैलून में काम करने वाली इस लड़की ने रेप की कोशिश का भी आरोप लगाया है.

(फ़ोटो कर्टसी: तनसीम हैदर)

25 साल की निशा (नाम बदल दिया गया है) भंगेल की रहने वाली है. ये नोएडा फेज़ 2 में पड़ता है. 16 मार्च को उसने वीनस यूनिसेक्स सैलून नाम के पार्लर में काम करना शुरू किया था. वहां वो बतौर मेकअप आर्टिस्ट काम करती थी. उसकी सैलरी 17 हज़ार तय हुई थी. पर दो महीनों से उसकी पगार नहीं मिली. वो सैलरी की बात करता तो पार्लर का ओनर वसीम उसे टरका देता.

11 मई को निशा रोज की तरह ही पार्लर पहुंची. वहां वो वसीम से मिली और अपनी सैलरी मांगी.

आज तक के डिप्टी एडिटर तनसीम हैदर के मुताबिक, निशा ने आरोप लगाया कि जब उसने अपनी सैलरी मांगी तो वसीम ने उसे गालियां देनी शुरू कर दीं. इसके बाद वसीम और उसके दोस्त शेरा ने निशा को पार्लर के अंदर ही मारना शुरू कर दिया. उसका रेप करने की कोशिश की. ख़ुद को बचाने के लिए उसने शेरा का कान काट लिया. और जल्दी-जल्दी पार्लर के बाहर भाग आई.

1_051419025636.jpg

वसीम और उसके दोस्तों ने मिलकर निशा को बालों से घसीटा. (फ़ोटो कर्टसी: तनसीम हैदर)

इसके बाद वसीम, शेरा, और उनके दो और दोस्त निशा के पीछे-पीछे बाहर आ गए. चारों ने मिलकर उसे बुरी तरह पीटना शुरू कर दिया. निशा ने ये भी कहा है कि वसीम पिछले 10 दिनों से उसे सैलरी के लिए टरका रहा था. वो हर रोज़ अगले दिन का बहाना बनाकर टाल रहा था.

2_051419025649.jpg

निशा को दो महीनों से अपनी सैलरी नहीं मिली थी. (फ़ोटो कर्टसी: तनसीम हैदर)

पुलिस को दिए अपने बयान में निशा ने कहा कि चारों मिलकर उसे मारते रहे. भीड़ जमा हो गई थी. कोई मदद के लिए आगे नहीं आ रहा था. सब अपने फ़ोन पर या तो तस्वीर खींच रहे थे या वीडियो बना रहे थे. ये वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं. निशा ने मदद के लिए चिल्लाने शुरू किया. तब जाकर कुछ लोग मदद के लिए पहुंचे.

साथ ही, निशा ये भी कहती हैं कि पुलिस सही समय पर नहीं पहुंची. इसलिए चारों आरोपी वहां से भाग निकले. पुलिस आई भी तो उसने निशा की बात को ठीक से नहीं सुना. न ही पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी से फुटेज ली. पिटाई के वायरल वीडियो में आरोपियों के चेहरे हैं लेकिन पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार नहीं किया है.

3_051419025659.jpg

निशा एक यूनिसेक्स पार्लर में काम करती थी. (फ़ोटो कर्टसी: तनसीम हैदर)

वहीं पुलिस का कहना है कि उसने इंडियन पीनल कोड की दफ़ा 323, 354 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा.

ये तो हद है. इंसान मेहनत से काम करता है ताकि महीने के आख़री में पगार मिले. जिससे उसका घर चल सके. पर अगर अपनी मेहनत की कमाई मांगने के बदले रेप की कोशिश और मार-पीट हो तो इंसानियत पर लानत है.

पढ़िए: ससुरालवालों ने टॉर्चर किया, नग्न हालत में 3 किलोमीटर पैदल चलकर पुलिस स्टेशन पहुंची

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group