शोले के वीरू की परंपरा को जीवित रखते हुए महिला प्रधान पानी की टंकी पर चढ़ीं

किस 'मौसी' को मनाना है इन्हें?

आपात प्रज्ञा आपात प्रज्ञा
दिसंबर 05, 2018
गांव के दबंगो के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करतीं महिला प्रधान. सांकेतिक तस्वीर. फोटो क्रेडिट- यूट्यूब

'ये बसन्ती है न इससे मेरा लगन होने वाला था लेकिन इसकी बूढ़ी मौसी ने बीच में भांजी मार दी. अब मैं इस दुनिया में नहीं रहना चाहता.'

शोले फिल्म का ये सीन बॉलीवुड के सबसे प्रसिद्ध दृश्यों में से एक है. पानी की टंकी की जब भी बात होती है तो दिमाग में सबसे पहले हाथ में दारू की बोतल लिए धर्मेंद्र की छवि उभरती है. जिसमें वो टंकी पर चढ़ के आत्महत्या करने का ढोंग करते हैं.

खैर, ये तो रही फिल्म की बात. आगरा में एक महिला प्रधान विरोध जताने के लिए पानी की टंकी पर चढ़ गईं. ये घटना है नगला कली गांव की. यहां पर महिला प्रधान पानी की टंकी पर चढ़ के गांव के दबंगों का विरोध करती नज़र आईं. महिला प्रधान का कहना है कि गांव के कुछ दबंग उनके कामों में व्यवधान उत्पन्न कर रहे हैं. गांव में पानी भर जाता है जिसके लिए वो नाले की खुदाई करवा रही हैं पर गांव के ही कुछ लोग उन्हें काम नहीं करवाने दे रहे. इन लोगों का विरोध करने के लिए महिला प्रधान ने ये कदम उठाया.

capture_750x400_120518123517.jpgअब अधिकारियों के आश्वासन के बाद उन्हें उम्मीद है कि कोई ठोस कदम उठाया जाएगा. फोटो क्रेडिट- यूट्यूब

महिला प्रधान ने बताया कि प्रशासनिक अधिकारियों से शिकायत करने पर भी कार्रवाई नहीं हुई. अब अधिकारियों के आश्वासन के बाद उन्हें उम्मीद है कि कोई ठोस कदम उठाया जाएगा. ये वीडियो देखिए-

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group