सिर्फ़ वज़न ही नहीं बढ़ता, दिनभर बैठे रहने से शरीर में ये 5 ख़तरनाक बदलाव आते हैं

वेट गेन की चिंता छोड़िये. ये ज़्यादा ख़तरनाक है.

सरवत फ़ातिमा सरवत फ़ातिमा
जनवरी 21, 2019
आप दिन भर कितने घंटे बैठी रहती हैं? फ़ोटो कर्टसी: ट्विटर

#1. आशा 27 साल की है. ऑफिस में काम करती है. 9 से 10 घंटों की शिफ्ट होती है. दिन भर कुर्सी पर बैठे-बैठे काम. कमर अकड़ जाती है. काम का बोझ इतना कि ब्रेक लेने का समय नहीं.

#2. राधिका 19 साल की है. कॉलेज जाती हैं. 10 से 6 क्लासेज़. बैठे-बैठे दिन गुज़र जाता है.

#3. वसुधा शंकर. 35 साल की हैं. हाउसवाइफ़ हैं. एक्सरसाइज करने से काफ़ी कतराती हैं. बाहर वॉक करना भी खासा पसंद नहीं है. दिन या तो टीवी के सामने या बिस्तर पर लेटे बीत जाता है.

जानतीं हैं इन तीनों औरतों में क्या कॉमन है? तीनों दिन का ज़्यादा से ज़्यादा समय बैठे-बैठे गुज़ारती हैं. ऐसा आप भी करती हैं क्या? अगर हां, तो अब जो हम बताने वाले हैं उसको ज़रा ध्यान से समझिएगा.

दिन भर बैठे रहने से सिर्फ़ आपका वज़न नहीं बढ़ता. और भी कई दिक्कतें बढ़ जाती हैं. डॉक्टर रवीना अस्थाना मैक्स अस्पताल बेंगलुरु में जनरल फिजिशियन हैं. वो कहती हैं:

“घंटों बैठे रहना कितना ख़तरनाक है आपको अंदाज़ा भी नहीं है. सबको लगता है ज़्यादा से ज़्यादा थोड़ा वेट गेन होगा. और क्या. पर नहीं. आपको और भी कई ख़तरनाक हेल्थ प्रॉब्लम्स हो सकती है. ये ख़ासतौर पर उन लोगों के लिए है जो दिन भर ऑफिस डेस्क पर काम करते हैं. आप भी अगर उनमें से एक हैं तो इन पांच चीज़ों से बचकर रहिए.”

1. डिप्रेशन और एंग्जायटी

अगर आप दिन भर ऑफिस में बैठे बीताती हैं, तो आपको डिप्रेशन और एंग्ज़ायटी का ज़यादा ख़तरा होता है. भले ही आप दिन में समय निकालकर एक्सरसाइज़ कर लें. कई रिसर्च ये भी कहती हैं कि आप दिन भर में जितना ज़्यादा चलती-फिरती रहेंगी, उतना ज़्यादा ख़ुश रहेंगी.

2. पीठ और गले में दर्द

कंप्यूटर के सामने बैठकर काम करने से गले और पीठ में दर्द तो आपके अक्सर रहता होगा ही? वो इसलिए क्योंकि हमारे लोअर बैक में एक डिस्कनुमा चीज़ होती है. चार घंटों से ज़्यादा बैठे रहने से वो दब जाती है. और तब उठता है दर्द. ख़ासतौर पर बैक और गर्दन में.

3. कमज़ोर हड्डियां

शरीर के पोस्चर को ठीक करने के लिए बहुत ज़्यादा एक्सरसाइज़ करने की ज़रूरत नहीं है. केवल खड़े होने पर या चलने भर से ही पुराने बोन टिश्यू की जगह नए बोन टिश्यू ले लेते हैं. आप जितनी देर बैठी रहती हैं, उतना कम एक्सचेंज ऑफर चलता है शरीर के अंदर. यानी पुरानी चीज़ें नई में बदलना. अगर ऐसा नहीं होता है तो हड्डियां ज़्यादा जल्दी कमज़ोर हो जाती हैं. साथ ही ऑस्टियोपोरोसिस होने की भी संभावना रहती है. ये हड्डियों की बीमारी है.

4. ब्लड क्लॉट होते हैं

अगर आप हर थोड़ी देर में खड़ी नहीं होंगीं तो पैरों तक खून का बहाव कम होने लगेगा. साथ ही खून का गट्ठा यानी ब्लड क्लॉट होने से रोकने वाला एक प्रोटीन शरीर में बनता है. वो भी बनना कम हो जाता है. प्रिवेंशन मैगज़ीन में छपी एक ख़बर के मुताबिक, जो औरतें एक हफ़्ते में 40 घंटे बैठकर बिताती हैं, उनका ये ब्लड क्लॉट लंग तक पहुंच जाता है. और ये काफ़ी ख़तरनाक है.

5. डाईबीटीज़ और हार्ट प्रॉब्लम

ज्यादा देर बैठे रहने से कैलोरीज़ बर्न नहीं होतीं. ये तो कोई सीक्रेट नहीं है. पर. आपके हॉर्मोन ग्लूकोज़ को खून से सेल्स में ट्रांसफ़र करने का काम करते हैं. अगर ऐसा न हो तो आपको डाईबीटीज़ होने का ख़तरा भी हो जाता है. पर अगर आप लंबे समय तक बैठी रहती हैं तो ये प्रोसेस स्लो हो जाती है.

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group