ससुराल वालों के टॉर्चर से तंग आकर महिला ने अपनी सुसाइड प्लैन की, फिर पुलिस को गच्चा दे दिया

गाड़ी में सुसाइड नोट मिला, महिला मिली बेंगलुरु में

शुक्रवार को एक परिवार ने मिसिंग पर्सन्स रिपोर्ट फाइल की. दिल्ली में. कहा कि उनकी बेटी नहीं मिल रही है.

शुक्रवार, 5 जुलाई को पुलिस को हिंडन नदी के किनारे एक स्कॉर्पियो गाड़ी मिली. पुलिस ने उसके बारे में जानकारी जुटाई. गाड़ी अलीगढ़ की निकली. जब उसकी डीटेल का पता लगा कर लोगों से कांटेक्ट किया गया तो पता चला कि कोमल नाम की लड़की के पास ये गाड़ी थी. उस गाड़ी की तलाशी में एक नोट भी मिला जिसमें लिखा था कि वो ससुराल और पति से परेशान होकर जा रही है. एकबारगी देखने पर यह लगा कि लड़की ने सुसाइड कर लिया है. नदी में कूदकर जान दे दी है.

इंदिरापुरम पुलिस ने टीमें लगाईं. NDRF की मदद ली. गोताखोरों को लगाया गया. लेकिन कुछ जानकारी नहीं मिली. कुछ इनपुट आया पुलिस के पास. जब उन पर काम हुआ तो पता चला कि लड़की नाराज होकर भागी थी घर से. जब उन इनपुट्स पर जांच आगे बढ़ी तो पता चला कि लड़की जयपुर में है. जब तक पुलिस वहां पहुंचती, कोमल मुंबई चली गई थी. मुंबई पहुंचने तक वो वहां से भी निकल गई. फिर आखिरकार उसे बेंगलुरु पुलिस स्टेशन पर पाया गया. परिवारवालों के साथ उसे गाज़ियाबाद वापस लाया गया.

dc-750x500_071019050530.jpgपरिवार के साथ कोमल. तस्वीर: ऑडनारी/ मयंक गौर

एसपी सिटी ग़ाज़ियाबाद, श्लोक कुमार ने हमारे रिपोर्टर मयंक गौर से बातचीत में कहा कि किन परिस्थितियों में लड़की ने ये कदम उठाया, वो पूछताछ होगी. कोमल ने ऐसा किया क्यों, इस पर उन्होंने मीडिया को बताया,

 “मुझे ये पता था कि मुझे उस घर में वापस नहीं जाना है. मेरे घर वाले अगर ये बोलते कि हमारे समाज और स्टेटस के लिए वापस जाओ तो मैं नहीं जाती, ये सब मैं डिसाइड करके गई थी. जब मैं हिंडन से निकल रही थी तब मैंने सोच लिया था कि उस घर में वापस नहीं जाना.

 “मैं परेशान हो चुकी थी अपने ससुराल वालों के टॉर्चर से. मेरे सामने बैठकर गालियां देते थे. मेरे ससुर जी मुझे बहुत बुरे तरीके से ट्रीट करते थे. कहते तुम यहां से मेरी मर्ज़ी के बिना कहीं नहीं जाओगी. ऐसा कुछ नहीं था कि मैं यहां झूठ बोलकर वहां जा रही हूं. मुझे यहां पहुंचकर ये याद आया कि मेरे पेरेंट्स की भी तो इतनी मेहनत है, उसको क्यों खराब करूं. इसलिए मैं यहां गाड़ी छोड़कर चली गई. मुझे नहीं पता था मैं कहां जा रही हूं बस मैं चली गई.”

komal-750x500_071019050605.jpgकोमल ने अपने बयान में ये बातें कहीं

कोमल की शादी 2018 में दिल्ली के अभिषेक से हुई. शुक्रवार को वो ऑफिस से निकली थीं, पर वापस नहीं आईं. अखबारों में छपी रिपोर्ट्स के मुताबिक़ कोमल ने पुलिस को बताया कि उनके ससुराल वाले दहेज़ के लिए प्रताड़ित करते थे. पति अभिषेक कमाता नहीं था, दूसरी लड़कियों के साथ इन्वोल्व था. उनके साथ मारपीट भी होती थी. इन्हीं सब कि वजह से वो कोयम्बटूर के एक आश्रम में जा रही थीं.

इस मामले में आगे क्या होता है, इसकी अपडेट हम आप तक पहुंचाते रहेंगे.

ये भी पढ़ें:दामाद दलित था, इसलिए उसे तलवार, छड़ों, छुरी, डंडों से हमला कर जान से मार डाला

देखें वीडियो:

 

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group