क्या पीरियड्स के दौरान औरतें रक्तदान कर सकती हैं?

रक्तदान करते रहना आपके शरीर के लिए ज़रूरी है.

सरवत फ़ातिमा सरवत फ़ातिमा
नवंबर 21, 2018
ये कितना सेफ़ है? फ़ोटो कर्टसी: ट्विटर (सांकेतिक तस्वीर)

क्या आप अपना ब्लड डोनेट करती हैं? या कभी किया है? अगर हां तो अच्छी बात है. पर अगर नहीं तो आपको एक बात पता होनी चाहिए. स्वस्थ लोगों को अपना खून डोनेट करते रहना चाहिए. इससे न ही सिर्फ़ किसी की जान बच सकती बल्कि ये आपकी सेहत के लिए भी अच्छा होता है. पर एक दिक्कत है. हर महीने, तीन से पांच दिन आपको पीरियड्स होते हैं. क्या पीरियड्स के दौरान आप अपना खून डोनेट कर सकती हैं?

ये सवाल बहुत आम है. सब अपनी अलग-अलग राय रखते हैं. पर ज़रूरी ये है कि डॉक्टर क्या कहते हैं? इस बारे में हमनें डॉक्टर तनुश्री जुनेजा से बात की. ये लाइफ़लाइन हेल्थ इंस्टिट्यूट, गुडगांव में स्त्री रोग विशेषज्ञ हैं.

वो कहती हैं:

“आप पीरियड के दौरान वैसे तो ब्लड डोनेट कर सकती हैं. पर अगर आपको हैवी पीरियड होते हैं, यानि हैवी ब्लीडिंग होती हैं तो आपको ब्लड डोनेट करना अवॉयड करना चाहिए. वो इसलिए क्योंकि किसी भी तरह का ब्लड लॉस आपके शरीर में आयरन की मात्रा को कम कर देता है. इस वजह से आपको बहुत थका और बीमार महसूस होता है. पीरियड के दौरान आपको वैसे भी ब्लड लॉस तो होता ही है.”

1_112118034752.jpgहर महीने, तीन से पांच दिन आपको पीरियड्स होते हैं.

मयो क्लिनिक के मुताबिक, हर औरत अपने शरीर के हिसाब से फ़ैसला ले सकती है. कुछ औरतों को पीरियड के दौरान ब्लड डोनेट करने के बाद बाहों में दर्द होता है. साथ ही चक्कर भी आता है. साथ ही पीरियड्स में क्रैम्पस भी होते हैं. अगर आपको उनके दौरान ज़्यादा दर्द होता है तो पीरियड में खून न ही दें. क्योंकि आपको और दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है.

अगर आप किसी वजह से खून देती हैं तो याद से ढेर सारे फ़्लुइडस लीजिए. ख़ासतौर पर जिनमें थोड़ी शक्कर मिली हो. जैसे जूस. कोल्ड ड्रिंक वगेरह अवॉयड करिए. ख़ूब सारा पानी भी पीजिए. खून देने के बाद आपको वो चीज़ें ज़रूर खानी चाहिए जिसमें आयरन हो. जैसे सेब, हरी सब्जियां, मछली वगेरह.

 

ऑडनारी से चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं!

ऑडनारी से चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं!

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2018 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today.