मर्जी से शादी करना चाहती थी लड़की तो अपने ही परिवार ने क्रूरता की

'केस नहीं करूंगी, लेकिन अब साथ में रह भी नहीं सकती'

प्रतीकात्मक तस्वीर- pixabay

एक लड़की है. 27 साल की. काम करती है, सेल्फ डिपेंडेंट है. वो लड़की किसी से प्यार करती है. उससे शादी करना चाहती है. वो घरवालों को बताती है लेकिन वो नहीं मानते. उसे घर में कैद कर लिया जाता है. उसे पीटा जाता है. उस पर किसी और से शादी का दबाव बनाया जाता है.

ये मामला दिल्ली के सुल्तानपुरी इलाके का है. दिल्ली महिला आयोग ने 9 जून को इस लड़की को रेस्क्यू किया है. 

अब जान लेते हैं कि पूरा मामला क्या है?

दिल्ली की रहने वाली ईशा (बदला हुआ नाम) यूपी के एक शहर में जॉब करती है. उसी जगह पर आकाश (बदला हुआ नाम) की भी पोस्टिंग है. आकाश इटावा का रहने वाला है. साथ काम करते हुए दोनों की दोस्ती हुई और दोस्ती प्यार में बदल गई. गर्मी की छुट्टियां शुरू होते ही ईशा अपने घर दिल्ली आ गई. यहां उसके परिवारवाले उसकी शादी किसी और से तय करने जा रहे थे. ईशा ने इससे इनकार किया. अपने और आकाश के बारे में घरवालों को बताया.

फिर क्या था. उसका फोन छीन लिया गया. उसके घर से बाहर जाने पर रोक लगा दी गई. उसे एक कमरे में बंद कर दिया गया.

ये पूरा मामला सामने आया दिल्ली महिला आयोग (DCW) के पास आए एक कॉल के बाद. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फोन करने वाले शख्स ने बताया कि वो आकाश का दोस्त है. वह ईशा से प्यार करता है और ईशा के घरवालों ने उसे बंधक बनाकर रखा है.

शिकायत के बाद 9 जून को DCW की टीम पुलिस के साथ लड़की के घर पहुंची और उसे वहां से छुड़ाया गया. पुलिस के सामने लड़की ने बताया कि वो अपने सहकर्मी से शादी करना चाहती है, लेकिन घरवाले इसके विरोध में हैं. इसीलिए उसे कैद कर लिया. लड़की ने परिवार के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने से मना कर दिया है. लेकिन अब वो परिवार के साथ नहीं रहना चाहती.

इस खबर में लड़की बालिग है. अपने पैरों पर खड़ी है. अपने फैसले खुद ले सकती है. अपने खर्चे खुद उठाती है. घर के खर्चे में भी मदद करती होगी. लेकिन शादी के लिए उसने खुद से कोई लड़का चुना तो घरवालों का ईगो हर्ट हो गया! हद है.

ये भी पढ़ें- नोएडा के चार पुलिसवाले गिरफ्तार हुए हैं, वजह जानकर सिर पकड़ लेंगे

 

 

लगातार ऑडनारी खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करे      

Copyright © 2019 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today. India Today Group